“उत्तरभारतीय रेल संघर्ष समिति” निजी ट्रेन ‘तेजस’ का व्यापक पैमाने पर करेंगी विरोध

– उत्तर भारत के आम नागरिकों की मांग दरकिनार करने का आरोप

रेल संगर्ष समिति की चेतावनी, उत्तरभारतीय को ट्रेन नहीं मिलेगी तबतक सूरत स्टेशन से कोई नई ट्रेन नहीं जाएगी”

उत्तरभारतीय रेल संघर्ष समिति के संयोजक अजीत तिवारी और सह संयोजक अनूप राजपूत ने बुधवार को एक संयुक्त बयान जारी कर बताया कि अहमदाबाद-मुम्बई के लिए शुरू होने वाली निजी ट्रेन तेजस का सूरत में उत्तरभारतीय समाज विरोध करेगा। सूरत में लाखों की संख्या में रहने वाला उत्तर भारतीय समाज काफी लंबे समय से रेल समस्य से बुरी तरह जूझ रहा हैं और लगतर नई ट्रेनें शुरू करने की मांग करते हुए सड़को पर उतर रहा हैं किन्तु सरकार व रेल प्रशासन द्वारा इस मुद्दे पर गंभीर उदासीनता दिखाई जा रही हैं और उत्तर भारतीय समाज की नई ट्रेन की मांग दरकिनार की जा रही हैं ऐसे में तेजस जैसी ट्रेनें शुरू हो रही जिसकी कोई प्रासंगिकता व आवश्कयता उपस्थित नहीं हैं अतः हम हमारा मानना हैं कि रेल प्रशासन व सरकार द्वारा उत्तरभारतीय समाज के साथ अन्याय किया जा रहा हैं जिसको ध्यान में रखते हुए उत्तरभारतीय रेल संघर्ष समिति ने यह निर्णय लिया हैं कि समाज के सभी संगठनों के साथ बातचीत कर व्यापक पैमाने पर हम तेजस निजी ट्रेन का विरोध करेंगे। इस के साथ-साथ मजदूर संगठन इंटक द्वारा भी जो तेजस ट्रेन के विरोध ऐलान किया गया हैं हम उसे पूर्णतः समर्थन देंगे व सभी संगठनों के साथ सामंजस्य बना कर प्रभावी विरोध दर्ज कराएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

31 दिसम्बर से पहले वापी क्षेत्र के यह चेक पोस्ट हटाए गए

वापी.दो दिन पूर्व डीजीपी की ओर से सभी चेकपोस्ट हटाने के आदेश का असर जिले में भी दिखेगा। इसके बाद दमण और सिलवासा से शराब की तस्करी रोकने के लिए जिले की सीमा पर बनाई गई चेकपोस्टों को हटाने की जानकारी दी गई है। जिले में सिलवासा और दमण से […]

Subscribe US Now